भारतीय सेना ने खुद के लिए बनाया वॉट्सऐप जैसे ऐप SAI, सुरक्षित मैसेज भेजने के लिए सेना अब इसे इस्तेमाल करेगी

Hindi InformationTech autoIndian Military Has Created An App Like WhatsApp For Itself, The Military Will Now Use It To Ship Safe Messagesनई दिल्ली10 म

मनु कुमार जैन- टेक्नोलॉजी न्यूज़, फ़र्स्टपोस्ट के मुताबिक, MIUI अपडेट पर MIUI अपडेट पर काम कर रहा है
Portable Car Washer Price List| This High Pressure Washer Wash Your Bike or Car in a Few Minutes, it will also help in Cleaning the House, know How it Works And its Price | बाइक या कार को चंद मिनटों में चमका देता है यह हाई प्रेशर वॉशर, घर की साफ-सफाई में भी करेगा मदद, कीमत के साथ जानिए कैसे करता है ये काम
The Galaxy Z Fold 2 foldable phone, Galaxy Watch 3 and Buds Live earbuds launched at Galaxy Unpacked 2020 event; Samsung announces the India price of Galaxy Note 20 series | सैमसंग ने लॉन्च किया नया फोल्डेबल फोन, गैलेक्सी वॉच 3 और इयरबड्स; कंपनी ने अनाउंस की गैलेक्सी नोट 20 सीरीज की भारतीय कीमत

  • Hindi Information
  • Tech auto
  • Indian Military Has Created An App Like WhatsApp For Itself, The Military Will Now Use It To Ship Safe Messages

नई दिल्ली10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

यह एंडॉयड प्लेटफार्म पर एंड-टू-एंड सिक्योर वॉयस, टेक्स्ट और वीडियो कॉलिंग सर्विसेस का सपोर्ट करता है।

  • साई ऐप को भारतीय सेना ही इस्तेमाल कर सकेगी
  • फिलहाल ऐप गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध नहीं है

भारत सरकार की आत्मनिर्भर भारत मुहीम के तहत, भारतीय सेना ने ‘सिक्योर एप्लीकेशन फॉर द इंटरनेट (SAI)’ नाम की एक सुरक्षित मैसेजिंग एप्लीकेशन को डेवलप और लॉन्च किया है। यह एंड्रॉयड प्लेटफार्म पर एंड-टू-एंड सिक्योर वॉयस, टेक्स्ट और वीडियो कॉलिंग सर्विसेस का सपोर्ट करता है। गुरुवार को रक्षा मंत्रालय ने इसकी घोषणा की।

अभी डाउनलोड के लिए उपलब्ध नहीं
मॉडल कमर्शियल रूप से उपलब्ध मैसेजिंग ऐप जैसे वॉट्सऐप, टेलीग्राम, संवाद और जीआईएमएस (GIMS) की तरह ही है और एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन मैसेजिंग प्रोटोकॉल का उपयोग करता है। रक्षा मंत्रालय ने बताया कि- साई लोकल-इन-हाउस सर्वर और कोडिंग के साथ सुरक्षा सुविधाओं पर काम करता है, जिसे उपयोगिता के अनुसार बदला जा सकता है। फिलहाल ये गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध नहीं है।

फिलहाल ऐप पर काम किया जा रहा है

  • ऐप को कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम आफ इंडिया (सीईआरटी-इन) के ऑडिटर और सेना साइबर ग्रुप द्वारा तैयार किया गया है, और एनआईसी (नेशनल इंफोर्मेटिक्स सेंटर) पर प्लेटफॉर्म को होस्ट करने और आईओएस प्लेटफॉर्म पर काम करने के लिए इंटलेक्चुअल प्रॉपर्टी राइट्स (आईपीआर) दाखिल करने की प्रक्रिया वर्तमान में काम किया जा रहा है।
  • SAI का उपयोग आर्मी द्वारा किया जाएगा और इस सर्विस के जरिए सुरक्षित मैसेजिंग का लाभ लिया जा सकेगा। रक्षा मंत्री ने ऐप की कार्यक्षमता की समीक्षा करने के बाद एप्लिकेशन डेवलप करने के लिए कर्नल साई शंकर की सराहना की।

.(tagsToTranslate)Indian Military(t)Indian Military Messaging App SAI

COMMENTS

WORDPRESS: 0
DISQUS: 0